अनोखा आयोजनः कुछ इस तरह मनाया गया विश्व किडनी दिवस

नई दिल्ली। विश्व किडनी दिवस की शुरूआत दो साल पहले हुई थी। साल 2006 से मनना शुरू हुए इस दिवस का मुख्य उद्देश्य लोगों को किडनी संबंधी रोगों के प्रति जागरूक करना और समस्या का निदान करना है। इंटरनेशनल सोसायटी ऑफ किडनी डिसीजेस और इंटरनेशनल सोसायटी ऑफ नेफ्रोलॉजी द्वारा लगातार बढ़ रही किडनी डिसीज को बढ़ता देख यह दिवस मनाने का निर्णय लिया गया। यह प्रत्येक वर्ष मार्च माह के दूसरे गुरूवार को मनाया जाता है।

एएचआरआर, धौला कुआं, नई दिल्ली में विश्व गुर्दा (किडनी) दिवस मनाया गया। समारोह में गुर्दा प्रत्यारोपित लोगों द्वारा “वॉकथॉन” से लेकर प्रेरक वार्ता, नाटकों और म्यूजिकल शो का प्रदर्शन किया गया, जिसमें गुर्दा मरीज के जीवन के विभिन्न पहलुओं और गुर्दा प्रत्यारोपण से होने वाले सकारात्मक अंतर पर प्रकाश डाला गया।समारोह का उद्घाटन मुख्य अतिथि, चिकित्सा महानिदेशक (सेना) लेफ्टिनेंट जनरल मनोमॉय गांगुली ने किया।दिवंगत अंग दाताओं के लगभग बीस परिवारों का अभिनंदन गणमान्य व्यक्तियों द्वारा किया गया ।