अब संतकबीरनगर के मैदान में पंजा लड़ाएंगे पहलवान, छूटेगा विरोधियों का पसीना

रवि यादव, संतकबीर नगर

खलीलाबाद। कांग्रेस ने समाजवादी पार्टी (SP) छोड़कर आज ही शामिल हुए भालचंद्र यादव को संतकबीरनगर लोकसभा से अपना प्रत्याशी घोषित किया है। भालचंद्र खलीलाबाद से दो बार सांसद रह चुके हैं। कुछ दिनों पहले पूर्वांचल के बाहुबली और दो बार के सांसद भालचंद्र यादव ने दिल्ली में डेरा डाल रखा था। पहलवान सपा के पुराने नेता माने जाते हैं और मुलायम के करीबी हैं। लेकिन इस बार गठबंधन होने के चलते यहां से BSP ने अपना उम्मीदवार उतारा है। उनकी सीट पर कुशल तिवारी चुनाव लड़ रहे हैं, जो पूर्वांचल के बाहुबली नेता हरिशंकर तिवारी के बेटे हैं।

भालचंद्र यादव कहते हैं कि अखिलेश डरपोक हैं, वो मायावती से डरते हैं। अब मायावती को कुशल तिवारी ने 23 करोड़ देकर टिकट लिया है। उन्होंने आज कांग्रेस पार्टी की नीतियों में आस्था जताते हुए आज प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय में (खलीलाबाद) संतकबीरनगर के पूर्व सांसद भालचन्द्र यादव एवं उनके तमाम समर्थकों ने समाजवादी पार्टी (SP) छोड़कर अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी (Congress) के सचिव एवं प्रभारी UP सचिन नाईक के समक्ष कांग्रेस की सदस्यता ग्रहण की। राजनीति के जानकारों का कहना है कि भालचंद्र यादव उर्फ पहलवान के मैदान में उतरने से विरोधियों को अच्छी-खासी परेशानी का सामना करना पड़ सकता है। दो बार मैदान जीत चुके पहलवान के पंजे को संभालना गठबंधन और प्रवीण निषाद के लिए भारी पड़ेगा।

प्रदेश कांग्रेस के प्रवक्ता अंशू अवस्थी बताते हैं कि भालचन्द्र यादव के साथ प्रमुख रूप से पूर्व प्रत्याशी विधानसभा सुबोध चन्द्र यादव, सपा के पूर्व जिला महासचिव नित्यानन्द यादव, पूर्व प्रधान विजय प्रताप पाल, अलीनगर के प्रधान विशम्भरनाथ श्रीवास्तव, छात्र नेता राम अशीष यादव एवं मणिशंकर यादव, सलीम बाबू, प्रधान हरीमाधव यादव, प्रधान मनोज यादव, शुभम राय, शहीर आलम, स्कन्द श्रीवास्तव आदि सैंकड़ों लोगों ने कांग्रेस की सदस्यता ग्रहण की। इस मौके पर पूर्व विधायक सतीश अजमानी, महासचिव प्रवक्ता द्विजेन्द्र त्रिपाठी, वीरेन्द्र मदान, ओंकारनाथ सिंह, राजेन्द्र बहादुर सिंह आदि वरिष्ठ नेतागण मौजूद रहे।