अगर आप को अस्थमा है तो करें ये उपाय

 

नया लुक टीम, नई दिल्ली। सांस लेने में तकलीफ होने को अस्थमा कहते हैं। आमतौर पर किसी चीज से एलर्जी या प्रदूषण के कारण लोगों में यह समस्या देखने को मिलती है। अस्थमा के कारण खांसी, सांस लेने में तकलीफ और नाक से अवाज आने जैसी प्रॉब्लम होती है। वैसे तो लोग इस परेशानी से छुटकारा पाने के लिए होम्योपैथिक दवाओं का सेवन करते है लेकिन कुछ घरेलू उपायों द्वारा भी इस समस्या से राहत पाई जा सकती है।

बता दें कि जब मौसम बदलता है तो अस्थमा के मरीजों को खांसी जैसी दिक्कतों का सामना करना पडता है। अस्थमा एक श्वास संबधी बीमारी है, जो अस्वस्थ फेफडों और एलर्जी के कारण गंभीर रुप ले लेती है। मगर स्वस्थ खानपान और देखभाल के सहारे इस समस्या की रोकथाम की जा सकती है। ताजा शोध से पता चला है कि ताजे फल और सब्जियों को लेने से अस्थमा की समस्या में आराम मिलता है। अस्थमा के मरीज को स्वस्थ आहार लेने वाले पुरुषों में अस्थमा के संकेत 30 प्रतिशत कम देखे गए। वहीं महिलाओं में ये कमी 20 प्रतिशत देखी गई। साथ ही जो पुरुष अस्थमा जैसी बीमारी से पीडित होते है, उनके स्वस्थ आहार लेने पर इस बीमारी के संकेतों में 60 प्रतिशत की कमी दर्ज की गई वही महिलाओं में 27 प्रतिशत राहत पाई गई।

क्या न खाएं
अस्थमा से ग्रस्त लोगों को मीट, ध्रूमपान, शराब, नमक और मीठे का ज्यादा सेवन से बचना चाहिए। इससे गंभीर रुप से बीमारी जन्म ले सकती है। मौसम में बदलाव होने पर अपनी पर्याप्त देखभाल करें।

अस्थमा के संकेत
अस्थमा के रोगियों को सांस लेने में तकलीफ होती है। साथ ही सीने में दर्द और खांसी जैसी समस्याएं भी होती है। अस्थमा के रोगी को हर मामले में ये संकेत थोडे अलग हो सकते है।

एंटी—आॅक्सीडेंट बीमारी की रोकथाम में मददगार
एंटी—आॅक्सीडेंट बीमारी की रोकथाम में ताजें फल—सब्जियों, फाइबर में एंटी—आॅक्सीडेंट और एंटी—इंफ्लेमेटरी तत्वों की प्रचुर मात्रा होती है। जो अस्थमा की समस्या की रोकथाम करने में मदद करते है। इसके सा​थ ही उचित देखभाल और योग भी मददगार साबित होता है।