आईसीसी पुरस्कारों में विराट कोहली का दबदबा

आईसीसी (अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद) क्रिकेट अवार्ड में भारतीय कप्तान विराट कोहली का फिर डंका बजा है। उन्होंने टेस्ट और वन डे दोनों ही प्रारूपों में सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी का पुरस्कार जीता है। इसके अलावा उन्हें आईसीसी की टीम का कप्तान भी बनाया गया है। मंगलवार को दुबई में घोषित पुरस्कारों में भारत का दबदबा रहा। यह तो अनुमान पहले ही लगाया जा रहा था कि विराट कोहली को कोई न कोई अवार्ड जरूर मिलेगा। पिछले साल उन्होंने टेस्ट मैचों एवं एकदिवसीय मुकाबलों में बेहतरीन खेल दिखाया है। चाहे भारत में या विदेश के मैदानों में उन्होंने हर जगह अपनी बेहतरीन बल्लेबाजी से खेल प्रेमियों को मोहित किया है। सेंचुरी बनाने के मामले में वह सारे दिग्गजों को पीछे छोड़ते जा रहे हैं। जहां तक वन डे क्रिकेट की बात है, विराट ने 219 मैचों में 39 शतक बना लिए हैं। भारत के ही सचिन तेंदुलकर ने 49 शतक बनाए हैं। विराट जिस अंदाज में खेल रहे हैं उससे लगता है कि वह सचिन का रिकार्ड तोड़ देंगे।
आस्ट्रेलिया में 2-1 से टेस्ट सीरीज में पहली बार भारत को जिताने का  भी विराट कोहली की कप्तानी को जाता है। 71 वर्षों में पहली बार यह जीत हासिल होना बड़ी बात है। इसके बाद तीन मैचों की वन डे सीरीज भी भारत ने 2-1 से अपने नाम कर ली। इस सीरीज में पूर्व कप्तान महेन्द्र सिंह धोनी की बड़ी चर्चा रही। आईसीसी पुरस्कारों में भारत के लिहाज से एक और खुशखबरी यह है कि युवा विकेट कीपर ऋषभ पंत को साल का उभरता हुआ खिलाड़ी (इमर्जिग प्लेयर ऑफ द इयर) चुना गया। इस साल जून में इंग्लैंड में टेस्ट मैचों की सीरीज में पंत को मौका दिया गया। उसने अपनी बल्लेबाजी से सबका ध्यान अपनी ओर खींचा। अभी समाप्त हुए आस्ट्रेलिया दौरे में भी पंत ने न केवल अच्छी विकेट कीपिंग की बल्कि सिडनी टेस्ट में धुआंधार 159 रन बनाकर भारत को विशाल स्कोर तक पहुंचाया। इस युवा क्रिकेटर ने यह दिखा दिया है कि वह फटाफट क्रिकेट का बेहतरीन खिलाड़ी है। उसका भविष्य उज्जवल है। धोनी की वजह से अभी उसे विश्वकप की टीम में जगह नहीं मिली है। मगर, आने वाले दिनों में धोनी के बाद उसे ही विकेट की रखवाली करनी है। इस नाते इमर्जिंग प्लेयर के रूप में उसके चयन पर कोई आपत्ति नहीं होगी। देश के लिए गर्व की बात यह भी है कि आईसीसी की वन डे टीम में रोहित शर्मा, कुलदीप यादव और जसप्रीत बुमराह को जगह दी गई है। कोहली इस टीम के कप्तान हैं। यानी कुल चार भारतीय खिलाड़ी आईसीसी ने अपनी टीम में रखे हैं। विराट के अलावा इन तीनों खिलाडिय़ों ने भी 2018 में अपने खेल से सबका दिल जीता है।
धर्मसेना सर्वश्रेष्ठ अंपायर
आईसीसी ने श्रीलंका के अंपायर कुमार धर्मसेना को लगातार दूसरे साल सर्वश्रेष्ठ अंपायर के खिताब से नवाजा है। धर्मसेना पूर्व क्रिकेटर हैं। श्रीलंका की ओर से उन्होंने स्पिन गेंदबाज की भूमिका निभाई हैं। खेल से संन्यास लेने के बाद उन्होंने अंपायरिंग के तौर पर अपना करियर शुरू किया और अभी तक बड़े ही अच्छे ढंग से वह अपना दायित्व निभा रहे हैं।
ऋषभ पंत उभरता हुआ खिलाड़ी
आईसीसी पुरस्कारों में भारत के लिहाज से एक और खुशखबरी यह है कि युवा विकेट कीपर ऋषभ पंत को साल का उभरता हुआ खिलाड़ी (इमर्जिग प्लेयर ऑफ द इयर) चुना गया। इस साल जून में इंग्लैंड में टेस्ट मैचों की सीरीज में पंत को मौका दिया गया। उसने अपनी बल्लेबाजी से सबका ध्यान अपनी ओर खींचा।