एक माह में करीब एक करोड़ राजश्व का संकलन

– बड़ी भन्सार के बाद अबतक की सबसे बड़ी रिकवरी
– ठूठीबारी महेशपुर रुट से निर्यात करने में अधिकारी देंगे व्यापारियों को अच्छी सुविधाएं
अरुण वर्मा/जीतेन्द्र गुप्ता
महेशपुर/नवलपरासी(नेपाल)।
नवलपरासी के महेशपुर छोटी भन्सार को स्तरोन्नति कर मूल भन्सार का दर्जा मिलने के बाद महज एक माह में उक्त भन्सार ने करीब एक करोड़ का राजश्व संकलन किया है। जो अबतक का सबसे बेहतर संकलन बताया गया। संसाधनों के अभाव के कारण अभी भन्सार से सम्बंधित अधिकारियों व कर्मचारियों को दिक्कत का सामना करना पड़ रहा है बावजूद वे मैनुअल काम करते हुए बेहतर राजश्व संकलन कर रहे है। इसकी जानकारी महेशपुर स्थित भन्सार इंस्पेक्टर हूम नारायण विष्ट ने दी।
मिली जानकारी के अनुसार विगत माह नेपाल के वित्तमंत्री युवराज खतिवड़ा ने नवलपरासी के महेशपुर स्थित छोटी भन्सार को विस्तार देते हुए बड़ी भन्सार की मान्यता उद्घाटन कर दी। जिसके बाद उक्त भन्सार में 17 अधिकारियों व कर्मचारियों की नियुक्ति की गई। नियुक्ति के बाद टीम भावना से काम करते हुए बीते माह में 99 लाख 43 हजार 7 सौ 64 रुपये का राजश्व संकलन किया गया जो अबतक का सर्वोच्च राजश्व संकलन है। बताते चले कि मूल भन्सार का दर्जा मिलने के बाद अबतक उक्त कार्यालय को आधुनिक उपकरणों से लैस नही किया जा सका है। जिसके कारण अभी भन्सार के सारे कामकाज मैनुअली ही किया जा रहा है। जिसके कारण तमाम समस्याएं सामने आ रही है। वही सड़क का स्तर बेहद घटिया होने के कारण मालवाहक गाड़ियों के संचालन में काफी दिक्कतें आ रही है। राजश्वकर्मियो ने व्यापारियों से आग्रह किया है कि समय व सुविधा के लिए वे ठूठीबारी महेशपुर रूट से नेपाल को अपना साज़ो समान भेजें। उन्हें इस रूट से काफी सहूलियत दी जाएगी।