चीन को हराकर नीरज चोपड़ा ने भाला फेंक में जीता पहला गोल्ड मेडल

नया लुक टीम, नई दिल्ली। जेवलिन थ्रोअर नीरज चोपड़ा ने 18वें एशियन गेम्स में भारत को गोल्ड मेडल दिलाया। उन्होंने सोमवार को 88.06 की थ्रो के साथ यह मेडल जीता। वे एशियन गेम्स के जेवलिन थ्रो में यह मेडल जीतने वाले पहले भारतीय हैं। 20 साल के नीरज चोपड़ा गेम्स की ओपनिंग सेरेमनी में भारत के फ्लैगबियरर थे। बीस साल के इस युवा ऐथलीट ने पहली बार भारत को इस स्पर्धा में एशियन गेम्स का गोल्ड मेडल दिलाया है। इससे पहले, 1982 के एशियाई खेलों में गुरतेज सिंह ने जैवलिन में ब्रॉन्ज मेडल जीता था। हरियाणा के पानीपत में जन्मे चोपड़ा 18वें एशियाई खेलों की ओपनिंग सेरिमनी में भारतीय ध्वजवाहक भी रहे थे।
बता दें कि हरियाणा के नीरज ने कॉमनवेल्थ गेम्स में भी भारत के लिए गोल्ड मेडलिस्ट थे। अप्रैल में 86.47 मीटर के साथ गोल्ड कोस्ट कॉमनवेल्थ गेम्स में सोने का तमगा जीता था। इससे पहले वे 2016 में पोलैंड में अंडर-20 वर्ल्ड चैंपियनशिप में 86.48 मीटर की थ्रो के साथ चैंपियन बने थे। इसके अलावा एशियन चैंपियनशिप भी जीत चुके हैं।