झारखंड को सौभाग्य देना चाहते हैं प्रधानमंत्री, कर डाली एक बड़ी डील

  • झारखंड विद्युत प्रणाली सुधार परियोजना के लिए भारत सरकार और विश्व बैंक ने 310 मिलियन डॉलर के ऋण समझौता पर हस्ताक्षर किया

रांची (पीआईबी)। झारखंड के लोगों को चौबीसों घंटे विश्‍वसनीय, गुणवत्‍तासंपन्‍न तथा किफायती बिजली प्रदान करने के उद्देश्‍य से झारखंड विद्युत प्रणाली सुधार परियोजना के लिए भारत सरकार, झारखंड सरकार तथा विश्‍व बैंक ने आज नई दिल्‍ली में 310 मिलियन डॉलर के ऋण समझौता पर हस्‍ताक्षर किया।

झारखंड विद्युत प्रणाली सुधार परियोजना से झारखंड में नई बिजली ट्रांसमिशन संरचना बनाने में मदद मिलेगी और राज्य की बिजली क्षेत्र की कंपनियों की तकनीकी दक्षता और वाणिज्‍यिक प्रदर्शन में सुधार होगा। परियोजना से ऑटोमेटेड सब-स्‍टेशन तथा नेटवर्क विश्‍लेषण और नियोजन उपकरण जैसे आधुनिक टेक्‍नोलॉजी समाधान लागू करने में मदद मिलेगी। इससे बिजली की विश्‍वसनीय आपूर्ति हेागी और उपभोक्‍ताओं की संतुष्‍टि में वृद्धि होगी।

प्रस्‍तावित निवेश के एक बड़े भाग का उद्देश्‍य बिजली ट्रांसमिशन संरचना में सुधार करना है। परियोजना सरकारी क्षेत्र की बिजली ट्रांसमिशन और वितरण कंपनियों की संस्‍थागत क्षमताओं को विकसित करने और उनके संचालन में सुधार पर फोकस करेगी।