तेज गेंदबाज प्रवीण कुमार ने क्रिकेट से लिया संन्यास

नया लुक टीम, नई दिल्ली। भारतीय क्रिकेट टीम के तेज गेंदबाज प्रवीण कुमार ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास ले लिया है। प्रवीण कुमार ने 11 साल के लंबे क्रिकेटिंग के करियर के बाद यह फैसला लिया है। प्रवीण भविष्य में गेंदबाजी कोच के रूप में करियर को आगे बढ़ाना चाहते हैं। संन्यास के बाद उन्होंने कहा कि मुझे कोई पछतावा नहीं है। दिल से खेला, दिल से बॉलिंग की। प्रवीण ने कहा कि उत्तर प्रदेश के ढेर सारे गेंदबाज हैं, जो पीछे इंतजार कर रहे हैं। मैं उनका करियर प्रभावित नहीं होने देना चाहता हूं। मैं खेलूंगा, तो एक जगह जाएगी। बाकी के खिलाड़ियों के भविष्य के बारे में भी सोचना चाहिए। मेरा खेल का समय पूरा हो चुका है और मैंने उसे स्वीकार लिया है। मैं बेहद खुश हूं और ईश्वर का शुक्रगुजार हूं कि उन्होंने मुझे यह मौका दिया।
बता दें कि प्रवीण कुमार साल 2007 में भारतीय वनडे टीम से इंटरनेशनल क्रिकेट में अपना डेब्यू किया था और वह आखिरी बार साल 2012 में पाकिस्तान के खिलाफ मैदान पर उतरे थे। टेस्ट टीम में उन्हें साल 2011 में मौका मिला था। भारतीय टी-20 में प्रवीण पहली बार साल 2008 में मैदान पर उतरे थे। प्रवीण भारत के लिए 6 टेस्ट, 68 टेस्ट और 10 टी-20 मैच अभी तक खेले हैं। हालांकि टेस्ट क्रिकेट में प्रवीण को अधिक मौका नहीं मिला लेकिन इतने ही मैचों में उन्होंने 27 विकेट लिए। वनडे में प्रवीण ने 77 विकेट अपने नम किए जबकि टी-20 में उनके नाम कुल आठ विकेट दर्ज है।