दुर्गेश के लिए ‘मसीहा’ साबित हुए डीएम राजशेखर और एसपी दिलीप

  • जिलाधिकारी के इस मानवीय कदम की जिले में जोरों से चर्चा
  • तहसील दिवस से लौटते वक्त सड़क किनारे देखा था घायल युवक

आनंद प्रकाश शुक्ल

बस्ती। अपनी अलग कार्यप्रणाली के लिए चर्चित आईएएस अफसर राजशेखर आज फिर सुर्खियों में हैं। सोशल मीडिया पर उन्हें लोग ‘रीयल हीरो’ की संज्ञा दे रहे हैं और यह पोस्ट हजारों की संख्या में लाइक और शेयर की जा रही हैं। हालांकि प्रदेश में सराहनीय कार्यों ले लिए जब भी जिलाधिकारियों की चर्चा होती है तो राजशेखर का नाम जरूर लिया जाता है।

सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे पोस्ट के अनुसार बस्ती डीएम राजशेखर ने बड़ा ही सराहनीय क़दम उठाया। उन्होंने रोड एक्सीडेंट में घायल मुसाफ़िर को अपनी गाड़ी से हॉस्पिटल भिजवाया, साथ ही अस्पताल प्रशासन को बेहतर इलाज का निर्देश भी दिया। साथ ही उन्होंने घायल मुसाफ़िर के परिजनों को भी हॉस्पिटल भी भिजवाया। पूरे जिले में बस्ती के जिलाधिकारी के इस मानवीय कदम की बड़े जोर-शोर से चर्चा है।

घटना कल तकरीबन ढाई बजे की है। तहसील दिवस के मौके पर बस्ती डीएम राजशेखर, एसपी दिलीप कुमार के साथ भानपुर सोनहा के जोगिया स्थित आश्रम पद्धति विद्यालय का निरीक्षण करने पहुंचे थे। करीब 12 बजे से वहां से निकलकर वह तहसील परिसर पहुंच गए और करीब सवा दो बजे तहसील से लोगों की समस्याएं सुनने के बाद वह वापस जिला मुख्यालय बस्ती लौट रहे थे।

बस्ती-डुमरियागंज मार्ग स्थित सल्टौआ के पास सड़क के किनारे दुर्घटना में घायल एक युवक डीएम राजशेखर को दिखा। उन्होंने तुरंत अपने मातहतों को गाड़ी रुकने का निर्देश दिया और उस युवक के पास पहुंच गए। उनके साथ-साथ बस्ती पुलिस अधीक्षक दिलीप कुमार भी पहुंचे। घायल युवक को देखते ही डीएम-एसपी ने तुरंत अपनी सरकारी गाड़ी से उसे जिला अस्पताल भिजवाया और अस्पताल फोन करके घायल को ठीक से उपचार करने के लिए ताकीद भी किया। घायल युवक की पहचान सोनहा थाना क्षेत्र के भगवानपुर निवासी दुर्गेश चौधरी के रूप में हुई।