बारूद की ढ़ेर पर क़स्बा ठूठीबारी

– क़स्बा की दोनों पटरियों पर सजाया गया पटाखा की दुकान
– नियमों को ठेंगा दिखा किया जा रहा हादसा का इंतजार
ठूठीबारी/महराजगंज।
एक तरफ शासन ने पटाखा की बिक्री को लेकर तमाम नियम व कानून बना किसी भी हादसा को नियंत्रित करने पर लगा हुआ है। वही भारत नेपाल की सीमा पर स्थित महराजगंज जनपद के क़स्बा ठूठीबारी में सारी नियमों को ताक पर रख क़स्बा को बारूद की ढ़ेर पर खड़ा कर दिया गया है। क़स्बा के दोनों ही सड़क की पटरियों सजाई गई पटाखों की दुकानों से कब कैसा हादसा हो जाय कहां नही जा सकता । वही स्थानीय प्रशासन मूक दर्शक बन हादसा होने का इंतजार कर रहा है। जबकि पटाखा की दुकान के लिए एक निश्चित स्थान पहले से ही तय किया गया था।
पटाखा से देश भर में कई जगहों पर हादसा होने की खबर आ रही है। बावजूद जनपद के सीमाई क़स्बा ठूठीबारी में इसपर गम्भीर पहल नही हो सकी। सड़क के किनारे आबादी वाले क्षेत्र सहित व्यापारिक प्रतिष्ठानों के इर्दगिर्द पटाखा की दुकान सजाने के कारण लोग भयभीत है। वही स्थानीय प्रशासन को किसी हादसा का इंतजार। बस स्टैंड से लेकर नोमेन्स लैंड तक बेखौफ पटाखा दुकानदार अवैध रूप से अपनी दुकान सज़ा दीपावली के इस पर्व पर लोगों को सकते में डाल दिया है। जबकि कुछ दिन पूर्व ही पटाखा की दुकान के लिए ठूठीबारी स्थित राधा कुमारी इण्टर कालेज बाज़ार को चिन्हित किया गया था।