बीडीओ के निरीक्षण में कई शिक्षक मिले गैरहाजिर

गोरखपुर। जिलाधिकारी के निर्देश पर परिषदीय स्कूलों के निरीक्षण अभियान के तहत बुधवार को बीडीओ भटहट अमित सिंह ने जैनपुर में स्थित पूर्व माध्यमिक विद्यालय एवं प्राथमिक स्कूलों की औचक जांच किया। इस दौरान पूर्व माध्यमिक विद्यालय में तैनात नौ शिक्षकों में से छह बिना किसी सूचना के गायब मिले।

बीडीओ दोपहर दो बजे जैनपुर के पूर्व माध्यमिक स्कूल पर पहुंचे। सभी शिक्षक एक जगह बैठकर बतकही कर रहे थे। जबकि बच्चे इधर उधर दौड़ रहे थे। यहां तैनात प्रभारी प्रधानाध्यापक दिनेश सिंह सारथी, सहायक अध्यापक डा. आनंद मोहन सिंह हस्ताक्षर बनाकर गायब मिले। वहीं सहायक अध्यापक रामनरायन वर्मा एवं स्मिता सिंह दो दिनों से बिना हस्ताक्षर व सूचना के अनुपस्थित मिले । सहायक अध्यापक डा. संजय द्विवेदी ने बताया कि शिक्षिका इंदू सिंह डायट पर प्रशिक्षण के लिए गईं हैं।

बीडीओ की जांच में अभिलेख अधूरे पाये गये। स्कूल में 138 नामांकन के सापेक्ष 76 बच्चे उपस्थित मिले। सहायक अध्यापिका ऊषा तिवारी ने बीडीओ से स्कूल में शौचालय उपयोग के लायक नहीं होने की समस्या बताई। बीडीओ ने ग्राम पंचायत अधिकारी प्रशांत सहगल को कड़ी फटकार लगाते हुए स्कूल में तत्काल बालक व बालिका के लिए अलग-अलग शौचालय बनवाने के निर्देश दिए । इसके पश्चात बीडीओ ने प्राथमिक स्कूल की जांच किया। जहां प्रधानाध्यापक रामनरेश गुप्ता समेत सभी अध्यापक उपस्थित मिले।

बीडीओ ने निर्माणाधीन प्रधानमंत्री आवासों का स्थलीय निरीक्षण किया। इस दौरान लाभार्थी पूजा, संजय व धर्मेंद्र को 1.10 लाख रुपये भुगतान के बावजूद आवास अधूरा पाया गया। बीडीओ ने सभी के विरुद्ध नोटिस जारी करने का निर्देश दिया। इस दौरान ग्राम प्रधान श्याम दुलारी देवी के पति शौदागर निषाद, रामप्रकाश चतुर्वेदी, रोजगार सेवक राकेश कुमार आदि लोग मौजूद रहे।