मिल गेट पर गन्ना जला मिल कर्मियो व किसानों ने किया प्रदर्शन 

– विगत 17 दिनों से आंदोलनरत है किसान व कर्मी
– मिल मालिक की गिरफ्तारी के बाद किसान सहित कर्मियों को है आस
अरुण वर्मा
महराजगंज।
निचलौल तहसील अन्तर्गत गड़ौरा बाजार स्थित जेएचवी शुगर मिल गेट पर गन्ना किसानों व कर्मियों ने गन्ना जला धरना प्रदर्शन किया। धरना प्रदर्शन के सत्रहवें दिन कोई हल निकलता ना देख किसान आक्रोशित हो सांकेतिक रूप से गन्ना जला यह सन्देश दिया है कि अब उनके पास खेतों में पड़ी गन्ना जलाने के सिवाय कोई चारा नही दिख रहा।
जानकारी के अनुसार विगत 17 दिनों से धरना प्रदर्शन, अनशन, पैदल मार्च सहित चक्का जाम करने के बावजूद गन्ना किसानो तथा मिल कर्मचारियों के पक्ष में कुछ भी होता नही दिख रहा है। खेतों में खड़ी पड़ी लहलहाती गन्ना की फसलों पर अब असर होता दिख रहा है। गन्ना किसानों का कहना है कि अब गन्ना से चीनी रिकवरी भी दिन प्रतिदिन कम होती जा रही है। गन्ना किसानों व मिल कर्मियों के समर्थन में आए नौतनवा क्षेत्र के पूर्व सैनिकों ने रविवार की दोपहर बाद करीब दो बजे मिल गेट पर गन्ना जलाकर शासन व प्रशासन के विरोध में नारे लगाते हुए अविलम्ब मांगो को पूरा करने की चेतावनी दी। इस अवसर पर गन्ना कर्मचारी नेता नवल किशोर मिश्रा ,अम्बरीष मिश्रा ,गजानंद मिश्रा ,अमर बहादुर थापा ,सहित सैकड़ों लोग सम्मिलित रहे तथा कर्मचारियों ,किसानों ने मोदी-योगी केन कमिश्नर मुर्दा बाद के साथ साथ स्थानीय प्रशासन के खिलाफ भी नारा लगाए। मंच से अपने सम्बोधन में कर्मचारी नेता नवल किशोर मिश्रा ने कहां कि शासन हमें अब और मजबूर ना करें गन्ना किसान व मिलकर्मी भुखमरी के कगार पर है पेट की आग बुझाने के लिए अब हम आन्दोलन को और धारदार बनाएंगे। वही मजदूर नेता अम्बरीष मिश्रा ने भी किसानों व कर्मियों के हित की बात कही। इस मौके पर सुरक्षा के पुख़्ता इंतजामात किये गए थे। प्रभारी निरीक्षक कोतवाली ठूठीबारी विनोद कुमार राव मय फोर्स तैनात रहे। वही क्षेत्र के सैकड़ो गन्ना किसान, मिलकर्मी सहित पूर्व सैनिक जवान शामिल रहे।