मुख्यमंत्री ने किया गांवपालिका कार्यालय का शिलान्यास

  • महेशपुर स्थित भन्सार व नोमेन्स लैंड का भी लिया जायज़ा
  •  नवलपरासी के सर्वांगीण विकास की कही बात
                                                                                                       

अरुण वर्मा/जीतेन्द्र गुप्ता                                                    नवलपरासी(नेपाल)। नवलपरासी जनपद के पाल्हीनन्दन गांवपालिका कार्यालय का दिन सोमवार को प्रदेश संख्या पांच के मुख्यमंत्री शंकर पोखरेल ने भूमि पूजन कर शिलान्यास किया । बतौर मुख्यातिथि मुख्यमंत्री पोखरेल ने कहां कि गांवपालिका कार्यालय के निर्माण से एक ही छत के नीचे जनता को सारी सुविधाएं उपलब्ध हो जाएंगी। वही महेशपुर मूल भन्सार की मान्यता के बाद नेपाल भारत दोनों ही सीमावर्ती क्षेत्रों का सर्वांगीण विकास होने की बात कही।
अपने निर्धारित कार्यक्रम के तहत सोमवार की सुबह 9 बजे नवलपरासी जनपद के पाल्हीनन्दन गांवपालिका कार्यालय का प्रदेश संख्या पांच के मुख्यमंत्री शंकर पोखरेल ने वैदिक मंत्रोच्चारण के साथ भूमि पूजन कर शिलान्यास किया। कार्यक्रम की अध्यक्षता पाल्हीनन्दन गांवपालिका अध्यक्ष बैजू प्रसाद गुप्ता (दीपक) ने किया। अपने अध्यक्षीय भाषण में मेयर गुप्ता ने कुछ जनप्रतिनिधियों पर निशाना साधते हुए कहा कि वह जानता को गुमराह करना बन्द करें। एक कार्यालय किसी का व्यक्तिगत सम्पत्ति नही है। जबकि विशिष्ठ अतिथि प्रदेश सभा सांसद बैजनाथ जायसवाल ने मुख्यमंत्री का स्वागत करते हुए कहा कि उक्त कार्यालय के निर्माण से आम जनता को काफी लाभ मिलेगा।

वही उन्होंने  मूल भन्सार के सफल संचालन के लिए सड़क निर्माण को प्राथमिकता देने व कर कार्यालय की नवलपरासी में स्थापना की मांग की। बतौर मुख्यातिथि मुख्यमंत्री शंकर पोखरेल ने सभी का अभिवादन करते हुए कहा कि एक समय ऐसा था जब ग्राम सभाओं को वार्षिक दश हजार खर्च करने का अधिकार था। आज वह दौर गुजर गया अब दौर जनता का है। आज नेपाल के सभी प्रान्तों के स्थानीय प्रशासन को करोड़ो रूपये वार्षिक खर्च करने का अधिकार है। अब गांवपालिका द्वारा वार्षिक 25 करोड़ रुपये खर्च करने का अधिकार दे दिया गया है। सरकार द्वारा निःशुल्क बीमा, बेरोजगारी भत्ता, शिक्षा , चिकित्सा, सहित भूख से मरने वालों को भरपूर सहयोग का कानून बनाया गया है। अब किसी निर्धन को असहाय होने की जरूरत नहीं। प्रदेश सरकार जरूरतमंद गरीबो को आवास की भी सुविधा मुहैया कराएगी। मंच का संचालन पाल्हीनन्दन कार्यालय अधिकृत दुर्गा पौडेल ने किया। कार्यक्रम की समाप्ति के बाद मुख्यमंत्री शंकर पोखरेल ने भारत-नेपाल की सीमा का अवलोकन किया वही मूल भन्सार महेशपुर का भी जायजा लिया।

इस अवसर पर विशिष्ट अतिथि प्रतिनिधि सभा सांसद सुजाता शाक्य, जिलाधिकारी देवेन्द्र लमिछाने, पुलिस अधीक्षक राजेन्द्र भट्ट, सशस्त्र पुलिस बल अधीक्षक गहारधान राई, प्रदेश सभा सांसद दीपेन्द्र अधिकारी, राष्ट्रीय सभा सांसद रामलखन हरिजन, उद्योग वाणिज्य संघ जिलाध्यक्ष केशव भण्डारी, भारत नेपाल मैत्री पत्रकार संघ केंद्रीय अध्यक्ष अरुण वर्मा, पत्रकार महासंघ नेपाल केन्द्रीय सदस्य पुरुषोत्तम सुबेदी सहित क्षेत्र के तमाम लोग मौजूद रहे।