‘लोक कल्याण मित्र’ बनकर कमायें 25 हज़ार रुपये

प्रमुख संवाददाता,लखनऊ। जो युवा रोजगार की तलाश में हैं उन्हें अब निराश होने की जरूरत नहीं है। अब युवाओं के लिए एक बड़ी खुशखबरी है। यूपी में सरकारी नौकरियां निकली हैं। योगी सरकार के एक फैसले से यह साफ हो गया कि जल्द ही 25 हजार के वेतन पर सभी 822 ब्लॉक के लिए एक लोक कल्याण मित्र नियुक्त किया जाएगा। 25 हजार के अलावा 5 हजार रुपये भत्ते के तौर पर भी दिए जाएंगे। यानी हर ब्लॉक में लोक कल्याण मित्र को सरकार 30 हजार देगी, जो उनके कामकाज के प्रचार-प्रसार को लेकर जनता के बीच जाएंगे।

बता दें कि प्रदेश के सभी 822 विकास खंडों में एक-एक और राज्य मुख्यालय पर दो, कुल 824 लोक कल्याण मित्रों की नियुक्ति के लिए लोक कल्याण मित्र इंटरर्नशिप प्रोग्राम को मंजूरी दे दी। इनका चयन जिला स्तर पर होगा। इसमें 30 प्रतिशत सीट महिलाओं के लिए आरक्षित होंगी। राज्य सरकार के प्रवक्ता का कहना है कि प्रदेश सरकार द्वारा संचालित योजनाओं और कार्यक्रमों के व्यापक प्रचार-प्रसार और फीडबैक मैकेनिज्म को पुख्ता बनाए जाने के मकसद से लोक कल्याण मित्र इंटर्नशिप कार्यक्रम प्रस्तावित है।

लोक कल्याण मित्र के लिए 21 से 40 वर्ष के युवा इस आवेदन भर्ती में शामिल शामिल हो सकेंगे। कला, विज्ञान, कृषि विज्ञान, इंजीनियरिंग, प्रबंधन आदि में स्नातक युवा आवेदन कर सकेंगे। लोक कल्याण मित्रों का चयन लिखित परीक्षा से होगा। कंप्यूटर की जानकारी जरूरी होगी। एमएस ऑफिस और एमएस वर्ल्ड आदि की जानकारी उपयोगी रहेगी। सरकार ने इसके चयन की जिम्मेदारी जिले स्तर पर डीएम और कमिश्नर के अंडर में एक समिति को दी है। इसमें आरक्षण का रोस्टर भी सरकारी नियमों के हिसाब से होगा साथ ही उम्र और दूसरी अहर्ताएं भी सरकारी होंगी।

सरकारी धन से संरक्षित किए जा रहे आरएसएस कार्यकर्ता— अखिलेश

लोक कल्याण मित्रों की नियुक्ति किए जाने पर समाजवादी पार्टी ने भाजपा सरकार को घेरा है। पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश ने कहा है कि इसके जरिये राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के कार्यकर्ताओं को सरकारी धन से पोषित और संरक्षित करने का खेल किया जाएगा। यह उसी साजिश का हिस्सा है जो प्रशासनिक क्षेत्र में भी संघ स्वयंसेवको की भर्ती करती है।