समाजवादी पार्टी को झटका, व्यापारी नेता संजय अग्रवाल कांग्रेस में शामिल

प्रीति मिश्रा, साधना तिवारी, मोहम्मद परवेज आलम भी हुए कांग्रेसी

लखनऊ। समाजवादी पार्टी को एक तगड़ा झटका लगा है। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय सचिव रहे वरिष्ठ व्यापारी नेता संजय अग्रवाल ने समाजवादी पार्टी से इस्तीफा दे दिया है। वे  कांग्रेस में शामिल हो गये हैं।अखिल भारतीय व्यापार महासभा (अंतरराष्ट्रीय) के राष्ट्रीय अध्यक्ष संजय अग्रवाल ने गुरुवार को कांग्रेस जॉइन की। संजय अग्रवाल उत्तर प्रदेश विधान सभा चुनाव 2017 के ठीक पहले समाजवादी पार्टी में शामिल हुए थे। उनको सपा का राष्ट्रीय सचिव बनाया गया था।  इसके पहले संजय अग्रवाल भारतीय जनता पार्टी में रहे है। भाजपा में वे राष्ट्रीय संयोजक रहे हैं। इसके अलावा भाजपा छोड़कर प्रीति मिश्रा, साधना तिवारी, मोहम्मद परवेज आलम भी कांग्रेस में शामिल हुए। संजय अग्रवाल ने आरोप लगाया कि सपा अब अपनी नीतियों से पूर्णतः विमुख हो चुकी है और उसका उद्देश्य येन-केन-प्रकारेण सत्ता हथियाना मात्र रह गया है।Image result for सपा राष्ट्रीय अध्यक्ष से संजय अग्रवाल

संजय अग्रवाल ने कहा यह….

संजय अग्रवाल ने समाजवादी पार्टी की घोर जातिवादी और परिवारवादी नीतियों से तंग आकर खुद ही पार्टी से इस्तीफा दिया है। इस्तीफा देते हुए उन्होंने सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव पर परिवारवाद का आरोप लगाते हुए कहा है सपा प्रत्याशियों की पहली लिस्ट में अखिलेश यादव ने ज्यादातर परिवार के ही लोगों जैसे पिता मुलायम सिंह यादव, पत्नी डिम्पल यादव, भाई धर्मेंद्र यादव आदि को टिकट दिया और दिखावा समाजवादी सिद्धांतों का करते हैं।समाजवादी पार्टी के मुख्य प्रवक्ता राजेंद्र चौधरी ने इसकी जानकारी देते हुए बताया कि सपा राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव की अनुमति से संजय अग्रवाल पूर्व राष्ट्रीय सचिव लखनऊ को पार्टी विरोधी गतिविधियों में लिप्त होने के कारण समाजवादी पार्टी से 6 वर्ष के लिये निष्कासित कर दिया गया है।