सर्वे में टॉप पर मोदी, लेकिन राहुल नम्बर दो

  • फाइनेंस न्यूजमेकरों के लिए टॉप मटैरियल हैं उर्जित पटेल
  • वहीं सलमान खान सबसे चर्चित अभिनेता
  • दीपक मिश्रा को भी सर्च किया देशवासियों ने

नई दिल्ली। सर्च इंजन याहू ने देश के लिए 2018 ईयर इन रिव्यू की घोषणा की है, जिसमें न्यूजमेकरों में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी टॉप पर हैं, जबकि फाइनेंस न्यूजमेकरों में रिजर्व बैंक के गवर्नर ऊर्जित पटेल अव्वल हैं। ईयर इन रिव्यू के अनुसार इस साल के टॉप 10 न्यूज़मेकरों में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पहले और राहुल गांधी दूसरे स्थान पर हैं।

याहू ने मंगलवार को यहां यह सूची जारी करते हुये कहा कि ईयर इन रिव्यू के पर्सनैलिटी ऑफ द ईयर का स्थान मीटू सर्वाइवर्स को दिया गया। जिन्होंने दूरगामी प्रभाव के इस गंभीर मसले को उठाया। बड़ी संख्या में महिलाओं ने सोशल मीडिया पर बड़ी हैसियत वाले पुरुषों के खिलाफ यौन उत्पीड़न का आरोप लगाते हुए अपनी आपबीती साझा की। उनकी आवाज जनांदोलन में बदल गयी। भारी संख्या में नागरिक और मीडिया का हर हिस्सा महिलाओं के समर्थन में खड़ा हो गया।

अन्य लोगों में पूर्व मुख्य न्यायाधीश दीपक मिश्रा हैं जिन्होंने तीन तलाक और धारा 377 जैसे ऐतिहासिक निर्णय देने के साथ इस सूची में अपनी जगह बनायी है। सूची में पूर्व विदेश राज्य मंत्री एम जे अकबर का भी नाम है जिन्हें यौन उत्पीड़न के आरोपों के बाद त्यागपत्र देना पड़ा। बॉलीवुड की सबसे चर्चित शादी की सुर्खियों ने दीपिका पादुकोण और रणवीर सिंह को ‘कपल’ न्यूज़मेकर बना दिया है।

फाइनेशियल न्यूजमेकरों में रिजर्व बैंक कें गवर्नर उर्जित पटेल टॉप पर है। उनमें बाद रिलायंस इंडस्ट्रीज़ के अध्यक्ष मुकेश अम्बानी हैं। रफाल सौदे को लेकर विवादों में आये अनिल अम्बानी भी इस सूची में शामिल हो गये हैं। इसी तरह से अभिनेत्री सनी लियोन एक बार फिर सबसे अधिक सर्च की गई महिला सेलेब्रिटी रही हैं और उनके बहुत करीब पहुंचने में प्रिया प्रकाश वारियर की सफल रही है। अभिनेता सलमान खान सबसे अधिक सर्च किए गए पुरुष सेलेब्रिटी रहे हैं। अभिनेत्री प्रियंका चोपड़ा से शादी करने को लेकर चर्चा में आये अमेरिकी गायक निक जोनस इस मामले में दूसरे स्थान पर रहे हैं।

दो वर्ष से कम उम्र की श्रेणी में करीना कपूर और सैफ अली खान के बेटे तैमूर अली खान ने इस सूची में अपनी जगह बनायी है। मलयालम फिल्म ओरू आदार लव की कलाकार प्रिया प्रकाश वारियर का आंख मारना इंटरनेट पर धमाल साबित हुआ और वह भी इस सूची में स्थान पाने में सफल रही हैं।

इस साल के महत्वपूर्ण राजनीतिक घटक्रमों में कर्नाटक का चुनाव सबसे टॉप रहा और वर्ष 2018 में सबसे अधिक सर्च किया गया टर्म घोषित किया गया है। इस सूची में दूसरे स्थान पर ‘आधार’ सॉफ्टवेयर के साथ छेड़छाड़ का मामला आया जिसकी तहकीकात हफपोस्ट इंडिया ने की। इससे पूरे देश में विवाद छिड़ गया और मामला ऑनलाइन ट्रेंड करता रहा। बड़े घोटालों के आरोपी विजय माल्या और नीरव मोदी के नाम भी 2018 में सबसे अधिक सर्च किए गए सूची में शामिल हैं।