हर साल दो करोड़ रोजगार देने का महाझूठ बोला था मोदी नेः राहुल

अलवर। कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी ने आरोप लगाया कि मोदी सरकार के बेरोजगारों को धोखा देने का ही नतीजा है कि रोजगार नहीं मिलने से परेशान अलवर के चार युवकों को आत्महत्या करनी पड़ी। मालाखेड़ा में अलवर विधानसभा के 11 कांग्रेस प्रत्याशी के समर्थन में आयोजित रैली को संबोधित करते हुए गांधी ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हर साल दो करोड़ रोजगार देने का वादा किया था, लेकिन उन्होंने जनता को धोखा दिया तथा हालात यहां तक हो गए कि हिंदुस्तान के इतिहास में पहली बार अलवर में चार युवाओं ने रोजगार के अभाव में आत्महत्या की।

उन्होंने कहा कि नरेंद्र मोदी को बड़े उद्योगपतियों से बात करने की फुर्सत है लेकिन अलवर में आत्महत्या करने वाले युवाओं के परिजनों से बात करने का उनके पास समय नहीं है। अच्छा होता कि पीड़ित परिवार के लोगों से भी बात कर लेते और माफी मांग लेते। उन्होंने कहा कि राजस्थान ही नहीं हिंदुस्तान में रोजगार देने के वादे किए थे लेकिन उन्होंने कोई वादा पूरा नहीं किया।

उन्होंने कहा कि राजस्थान में कांग्रेस की सरकार बन रही है तथा जो भी मुख्यमंत्री बनेगा वह 24 घंटे में से 18 घंटा बेरोजगारों के बीच में घूमेगा और रोजगार की बात करेगा। अलवर में रोजगार का जिक्र करते उन्होंने कहा कि उनकी सरकार बनने पर हर जिले में फूड प्रोसेसिंग की फैक्ट्रियों का जाल बिछाया जाएगा ।जहां जहां जिस तरीके की फसल और फल पैदा होते हैं वहां उसी तरीके के फूड प्रोसेसिंग फैक्ट्री लगाई जाएगी और उसी इलाके के युवाओं को रोजगार दिया जाएगा।

राजस्थान के अलवरों में समर्थकों से घिरे कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी

राहुल गांधी ने पीएम मोदी पर हमला बोलते हुए कहा कि वह हर भाषण में भारत माता की जय बोलते हैं। यह उनका दिखावा है असल में वह भारत माता की जय भाषण में ही बोलते हैं लेकिन काम करते हैं अनिल अंबानी, ललित मोदी, नीरव मोदी और मेहुल चौकसी के लिए। उन्होंने अलवर के किसानों से पूछते हुए कहा कि क्या सरकार ने कर्जा माफ किया। उन्होंने कहा कि एक बार वह प्रधानमंत्री कार्यालय गए थे और किसानो के कर्जा माफ करने की बात की थी लेकिन उन्होंने उसका कोई जवाब नहीं दिया। उन्होंने चेताया कि कांग्रेस वाले उनसे डरते नहीं हैं और उन्हें कर्जा माफ करना पड़ेगा । उन्होंने कहा कि राजस्थान मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ में कांग्रेस की सरकार बनते ही 10 दिन में कर्ज माफ करेगी।

उन्होंने कहा कि मोदी ने काला धन के खिलाफ लड़ाई लड़ने की बात कहीं थी लेकिन नोट बंदी कर आम जनता को कतार में लगा दिया। उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि यह काले धन के खिलाफ लड़ाई नहीं थी बल्कि काले धन को सफेद करने की लड़ाई थी। यह आपका पैसा था जो अंबानी और नीरव मोदी जैसे लोगों की जेब में गया। राफेल खरीद में भ्रष्टाचार का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि 526 करोड रुपये का रफाल 1600 करोड में खरीदा गया लेकिन देश की रक्षा की बात करने वाले नरेन्द्र मोदी इस बात पर चुप रहते है।

इस मौके पर मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे पर हमला बोलते उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे जनता से नहीं मिलती वह सीधा हेलीकॉप्टर में उड़ती है। उन्होंने आरोप लगाया कि ललित मोदी ने 10 करोड़ों रुपए डायरेक्ट मनी ट्रांसफर के जरिए वसुंधरा के बेटे के खाते में डाले थे जिसका आज जिक्र तक नहीं हो रहा है।