हिमांशु बाबा के गाने पर रात भर माता के जयकारे लगाते रहे भक्तजन

  • किड्जी क्लाउड्स और शुभारम्भ फाउंडेशन ने कराया माता की चौकी
  • सूबे के कई बड़े अफसरों समेत काबीना मंत्री आशुतोष टंडन भी पहुंचे मां के दरबार में

सूरज मिश्र

भजन गायक हिमांशु बाबू

लखनऊ। राजधानी लखनऊ में पूरी रात माता के जयकारे लगते रहे। उसी क्रम में गोरखपुर के मशहूर भजन सम्राट और भोजपुरी सिनेमा के पार्श्व गायक हिमांशु बाबा ने जैसे ही ‘मां का आशीर्वाद जग में चारो धाम से न्यारा है’ गाना शुरू किया, लोगों के कदम अपने आप थिरकने लगे। इंदिरा नगर के सेक्टर 19 स्थित किड्जी क्लाउड प्ले स्कूल द्वारा आयोजित इस कार्यक्रम में लोगों की जबरदस्त भीड़ जमा थी। माता आदि शक्ति के दरबार में लोगों ने ऐसी जबरदस्त हाजिरी लगाई कि रात कब बीत गई पता ही नहीं लगा। उनके भोजपुरी गाने ‘सातों भवानी के रथ तैयार नवरात्रे में/चल पड़ली भक्तन के बांटे दुलार नवरात्रे में’ पर सड़क पर लोगों ने गाड़ियां तक रोक दीं।

माता के दरबार में हाजिरी लगाई काबीना मन्त्री गोपाल टंडन ने
प्रमुख सचिव राजस्व सुरेश चंद्रा और स्थानीय पार्षद भृगुनाथ शुक्ल

बतौर मुख्य अतिथि उपस्थित सूबे के चिकित्सा एवं प्राविधिक शिक्षा मंत्री आशुतोष टंडन उर्फ गोपाल जी ने माता की आरती कर कार्यक्रम की विधिवत शुरुआत की और पूरे सूबे के लोगों पर मां की कृपा बनी रहे, ऐसी शुभकामनाएं दीं। वहीं बतौर विशिष्ट अतिथि पधारे सूबे के प्रमुख सचिव राजस्व एवं श्रम सुरेश चंद्रा ने लोगों के उत्तम स्वास्थ्य के लिए माता से मंगल कामना की। उन्होंने कहा कि यह पर्व श्रद्धा का पर्व है, माता रानी जितने भी श्रद्धालुजन उपस्थित हैं, उन्हें उन्नति दें।

यूपीएसआरटीसी के एएमडी डॉ. ब्रह्मदेव तिवारी को सम्मानित करते कानपुर नगर निगम के मुख्य अभियंता मनीष सिंह

वहीं उत्तर प्रदेश राज्य परिवहन निगम के अतिरिक्त प्रबंध निदेशक डॉ. ब्रह्मदेव राम तिवारी ने बताया कि इस शारदीय नवरात्रि में मां दुर्गा का आगमन नाव से होगा और हाथी पर मां की विदाई होगी, जबकि बंगला पंचांग के अनुसार देवी अश्व यानी घोड़े पर सवार होकर आएंगी और डोली पर विदा होंगी। इसका मतलब माता इस बार दोनों ही रूप में सबका कष्ट हरने आ रही हैं। नाव से मतलब संसार सागर रूपी भंवर से पार कराने आ रही हैं दुर्गे माता। वहीं अश्व का मतलब इस संसार के कष्ट को दूर करने के लिए माता को बल प्रयोग भी करना पड़ेगा तो वह करेंगी। उपस्थित सभी जनों को मंगलकामना देते हुए सबके उन्नति का आशीर्वाद उन्होंने मां से मांगा।

कार्यक्रम में उपस्थित शुभारम्भ फाउंडेशन की चेयरपर्सन डॉ. सुषमा सिंह, किड्जी क्लाउड्स की प्रिंसिपल जयमाला सिंह और मंजु शुक्ला

इसके अलावा नगर निगम कानपुर के मुख्य अभियंता मनीष सिंह ने माता से दुआएं मांगी और बताया कि ऋतु परिवर्तन से पहले माता की पूजा में नौ दिन का तप करने से हमारा शरीर सर्दी से लड़ने के लायक हो जाती है। वह कहते हैं कि चूंकि यह व्रत शक्ति पूजा की है, इसलिए यह व्रत करने वाले शक्तिशाली होते हैं। ऊपर से रात-रात भर जागरण करने वालों पर माता जल्द प्रसन्न हो जाती हैं और उनका कष्ट हर लेती हैं।

नगर विकास विभाग के दो अफसर आपस में गुफ्तगू करते हुए। (विशेष सचिव अनिल बाजपेयी और मुख्य अभियंता मनीष कुमार सिंह)

वहीं नगर विकास के विशेष सचिव अनिल बाजपेयी ने पूरे उत्तर प्रदेश की जनता का कष्ट दूर करें मां, ऐसा आशीर्वाद मां से मांगा। वहीं उत्तर प्रदेश राजकीय निर्माण निगम के महाप्रबंधक आनंद कुमार पांडेय ने सुखी समाज के लिए मां से दुआएं मांगीं। इस कार्यक्रम में वरिष्ठ पत्रकार कुंवर अशोक सिंह राजपूत, योगेश मिश्र और भौमेंद्र शुक्ल भी उपस्थित थे। कार्यक्रम का आयोजन लखनऊ के शुभारम्भ फाउंडेशन ने किया था। शुभारम्भ की फाउंडर मेम्बर डॉ. सुषमा सिंह ने पूरे देश में सुख, समृद्धि और सौभाग्य बरसे इसकी मंगलकामना मां जगदम्बा से किया। कार्यक्रम के सह आयोजक किड्जी क्लाउड्स की प्रिंसिपल जय माला सिंह और उनकी सहयोगी मंजु शुक्ला समेत सारे स्कूल टीचर मौजूद रहे।

स्थानीय व्यापारियों का मिला बेहतर योगदानः वैसे तो मशहूर भजन गायक हिमांशु बाबा के चाहने वालों की संख्या लखनऊ में काफी है, लेकिन जैसे ही उन्होंने स्टेज पर माइक पकड़ा, मुंशी पुलिया के करीब-करीब सभी व्यापारी जमा हो गए। इस अवसर पर व्यापारी नेता अशोक मिश्र भोला समेत कई लोगों ने पूरे मेहनत के साथ कार्यक्रम को सफल बनाने की कोशिश भी की।

किड्जी क्लाउड्स के बच्चे भी जमे अपने टीचरों से साथ

इन कलाकारों ने की संगत

हिमांशु बाबा के साथ गोरखपुर के एक और मशहूर भजन गायक दिनेश तिवारी सांवरिया भी आए थे। उन्होंने अपने गाने ‘16 श्रृंगार किया, 16 है’ बाकी पर लोगों को जमकर थिरकाया। सांवरिया के गीतों पर लोग झूमते रहे और वो लगातार माता की आरती कर लोगों को नाचने पर मजबूर करते रहे। इस कार्यक्रम में हिमांशु बाबा की टीम में ये लोग भी उपस्थित रहे। तबले पर उत्तम मिश्र, पैड पर अखिलेश, आर्गन पर अरमान और ढोल पर मम्मे भाई ने जमकर अपना जलवा बिखेरा।

कार्यक्रम में पहुंचे थे यूपी के तीन वरिष्ठ पत्रकारः योगेश मिश्र, कुंवर अशोक सिंह राजपूत और भौमेंद्र शुक्ल

हिमांशु बाबा को सुनने के लिए यहां क्लिक करें, एक क्लिक पर गणपति का प्यारा सा भजन