10वीं और 12वीं में पिछले 5 सालों का सबसे खराब रिजल्ट

  • इस साल बोर्ड की हाईस्कूल और इण्टरमीडिएट की परीक्षा में 66 लाख 37 हजार 18 परीक्षार्थी पंजीकृत थे।
  • हाईस्कूल और इंटर दोनों में लड़कियों ने बाजी मारी है। हाईस्कूल में 75.16 प्रतिशत स्टूडेंट्स पास हुए हैं। इंटर में 72.43 स्टूडेंट्स पास हुए हैं।

नया लुक टीम, नई दिल्ली।
बात अगर परीक्षा और परिणाम की हो तो मन में सबसे ज्यादा उत्साह हाईस्कूल और इंटामीडिएट के छात्रों को रहती है। चूंकि यह जीवन का सबसे पहला पडाव माना जाता है। यहीं से यह निर्धारित हो जाता है कि छात्र आगे क्या करने वाला है। यूपी बोर्ड के इंटर और हाईस्कूल के रिजल्ट जारी हो चुके हैं। इंटरमीडिएट और हाई स्कूल में पिछले 5 सालों का सबसे खराब रिजल्ट रहा है। दसवीं में अंजली वर्मा ने 93.33 पर्सेंट लेकर टॉप किया है। जबकि, बारहवीं में रजनीश शुक्ला और आकाश मौर्या ने संयुक्त रूप से टॉप किया है। दोनों ने 93.20 फीसदी मार्क्स हासिल किए हैं। इंटरमीडिएट में 72.43 फीसदी बच्चों ने पास किया है जबकि हाईस्कूल का पास प्रतिशत 75.16 फीसदी है। यूपी बोर्ड इस बार टॉपर्स की कॉपियां भी अपने ऑफिशियल वेबसाइट पर अपलोड करेगा। 10वीं और 12वीं के अलग-अलग 10 टॉपर्स की आंसर शीट वेबसाइट पर अपलोड होंगे। यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने सभी टॉपर्स को बेहतर और उज्जवल भविष्य के लिए शुभकामनाएं दी हैं।