हत्यारों की गिरफ्तारी के विरोध में हमलावर हुए स्थानीय विधायक

  • ‎विगत 14 सितम्बर को नेपाल के बेलहिया से वापसी के दौरान कार की ठोकर से हुई थी मौत
  • 48 घण्टे की अल्टीमेटम के बावजूद सोनौली पुलिस के हाथ खाली

अरुण वर्मा

महराजगंज। ट्रांसपोर्टर के हत्यारों की गिरफ्तारी के लिए दिए गए 48 घण्टे के अल्टीमेटम के बाद भी जब सोनौली पुलिस के हाथ खाली दिखे तो विवश हो नौतनवा विधायक अमनमणि त्रिपाठी के नेतृत्व में दिन बुधवार की सुबह धरना प्रदर्शन कर हत्यारोपी को गिरफ्तार करने की मांग की गई। बीते 14 सितंबर की देर रात सोनौली में ट्रांसपोर्टर सुनील शर्मा को कुचलकर मार देने एवं अन्य दो ट्रांसपोर्टरों सभासद प्रतिनिधि विनय यादव एवं दीपक मद्धेशिया को गंभीर रूप से घायल कर देने वाले आरोपी नियाज अहमद की गिरफ्तारी की मांग को लेकर बुधवार को विधायक अमनमणि त्रिपाठी एवं सोनौली चेयरमैन प्रतिनिधि सुधीर त्रिपाठी के नेतृत्व में सैकड़ों लोगों ने सड़क जाम कर सोनौली में धरना प्रदर्शन किया और आरोपी की गिरफ्तारी की मांग को लेकर शासन प्रशासन को चेतावनी दी।


चेयरमैन प्रतिनिधि त्रिपाठी ने धरना स्थल पर पहुंचे तहसीलदार को जिलाधिकारी को संबोधित एक ज्ञापन देकर कहा किस घटना को बीते कई दिन हो गए ट्रांसपोर्टरों को जान से मारने की कोशिश में एक ट्रांसपोर्टर की मौत हो गई। जबकि दो अन्य ट्रांसपोर्टर जिंदगी और मौत के बीच अस्पताल में जूझ रहे हैं।
लेकिन इसके बावजूद आरोपी की गिरफ्तारी अभी तक नहीं की गई। इस मामले में पुलिस को 48 घंटे की मोहलत दी गई थी। इसके बावजूद पुलिस कहीं से गंभीर नहीं नजर आ रही है। जिससे स्थानीय लोगों में भारी रोष व्याप्त है। अगर जल्द ही आरोपी की गिरफ्तारी नहीं की गई। तो वह लोग नगर पंचायत के नागरिकों और सभासदों के साथ सड़क पर उतरकर विरोध प्रदर्शन करेंगे। जिसकी जिम्मेदारी शासन और प्रशासन की होगी।


इस मौके पर नौतनवा चेयरमैन गुड्डू खान, सभासद बेचन प्रसाद, प्रदीप नायक, अमीर आलम, बबलू सिंह(व्यापार मण्डल अध्यक्ष), आशुतोष त्रिपाठी, मुरारी मद्धेशिया, दीपक गौड़, प्रताप कान्दू, विजय रौनियार, पिंकू सिंह, पप्पू सिंह, अष्टभुजा मिश्रा, अफरोज खान, राजकुमार नायक, सुरेन्द्र विश्वकर्मा, राधेश्याम यादव, पप्पू खान, करम हुसैन, विनोद कुमार, वकील अहमद, प्रेम यादव, रामानन्द रौनियार, अमित जायसवाल,रंजन पाण्डेय, अशर्फी कन्नौजिया सहित बड़ी संख्या में नगर के लोग उपस्थित रहे।